मुंबई. आमिर के ‘असहिष्‍णुता’ वाले बयान के बाद बीजेपी सांसद और अभिनेता परेश रावल ने भी आमिर पर निशाना साधा है. परेश रावल ने कहा है कि आमिर की फिल्‍म ‘पीके’ में हिंदू धर्म का अच्‍छा खासा मजाक बनाया गया है. इसके बावजूद भी उन्‍हें हिंदूओं के गुस्‍से का सामना नहीं करना पड़ा.

परेश रावल ने ट्वीट में लिखा है कि आमिर की फिल्‍म ‘पीके’ में हिंदू धर्म का अच्‍छा खासा मजाक बनाया गया है. इसके बावजूद भी उन्‍हें हिंदूओं के गुस्‍से का सामना नहीं करना पड़ा और उनकी फिल्म ने करोड़ो रूपए कमाए.

परेश रावल ने कहा कि आमिर एक योद्धा हैं. उन्‍हें देश छोड़ने के बारे में नहीं देश की स्थिति बदलने के लिए काकरना करना चाहिए. जीना यहां, मरना यहां.

परेश ने कहा कि एक सच्‍चा देशभक्‍त विपरित परिस्थिति में अपनी मातृभूमि को छोड़ता नहीं है, परिस्थिति बदलने का प्रयास करता है. उन्होंने कहा कि अगर हम मानते हैं कि यह हमारी मातृभूमि है तो हम इसे छोड़ने की कभी बात नहीं करेंगे.

क्या कहा था आमिर ने ?

पत्रकारिता के क्षेत्र में दिए जाने वाले रामनाथ गोयनका अवॉर्ड समारोह में देश में बिगड़ते माहौल पर बॉलीवुड स्टार आमिर खान ने कहा है कि मेरी पत्नी किरण राव भी बच्चों की सुरक्षा को लेकर भयभीत हैं और वे इसकी वजह से देश छोड़ना चाहती हैं.

आमिर ख़ान के एक बयान को लेकर सोशल मीडिया पर हल्ला मच गया है. इस बयान को लेकर सोशल मीडिया पर उनकी आलोचना करने वालों का अंबार लग गया है, तो कई लोग उनके समर्थन में भी आए हैं.