नई दिल्ली. दिल्ली में आज होने वाली आम आदमी पार्टी की राष्ट्रीय परिषद की बैठक हंगामेदार रहने के आसार हैं. इस बैठक में पार्टी के संयोजक पद को लेकर फैसला किया जाना है और यह लगभग स्पष्ट है कि अरविंद केजरीवाल ही पार्टी के संयोजक बने रहेंगे. इस बैठक में दिल्ली सरकार के कामकाज पर भी चर्चा की जाएगी.
 
संयोजक बने रह सकते हैं केजरीवाल
गौरतलब है कि पार्टी के राष्ट्रीय संयोजक के तौर पर अरविंद केजरीवाल का कार्यकाल 26 नवंबर को खत्म हो जाएगा. सूत्रों के मुताबिक पार्टी का नया राष्ट्रीय संयोजक या दोबारा अरविंद केजरीवाल को चुनने का फैसला इस बैठक के दौरान लिया जा सकता है.
 
7 विधायक ही कर पाएंगे वोट
इसके अलावा राष्ट्रीय कार्यकारिणी के रिक्त पदों को भरने का फैसला भी इस बैठक में किया जा सकता है. आम आदमी पार्टी में करीब 300 राष्ट्रीय परिषद के सदस्य हैं, जबकि फिलहाल 14 राष्ट्रीय कार्यकारिणी में हैं. पार्टी में 7 विधायक राष्ट्रीय परिषद के सदस्य हैं, जिन्हें वोट करने का अधिकार है, जबकि अन्य विधायकों को वोट करने का अधिकार नहीं है.
 
होंगे कई अहम अहम फैसले
योगेंद्र यादव और प्रशांत भूषण को बाहर किए जाने के बाद पार्टी कई बार लड़खड़ाई है. पिछली बार हुई राष्ट्रीय परिषद की बैठक के बाद पार्टी में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की संख्या 24 से घटकर 14 रह गई है. ऐसे में इस बैठक के दौरान कई अहम फैसले लिए जा सकते हैं.