मुंबई. शीना बोरा हत्याकांड में उसकी मां इंद्राणी मुखर्जी की गिरफ्तारी के तीन महीने बाद आख़िरकार जांच एजेंसी को हत्या की एक संभावित वजह मिल गई है. सीबीआई ने अपनी चार्जशीट में बताया कि शीना की अपने सौतेले भाई राहुल मुखर्जी के साथ रिश्ते को लेकर मां-बेटी में अक्सर लड़ाई हुआ करती थी. राहुल मीडिया टायकून पीटर मुखर्जी की पहली शादी से हुआ बेटा है. सीबीआई ने गुरुवार को इस मामले में पीटर को गिरफ्तार किया है.
 
तो क़त्ल की वजह था संपत्ति विवाद
सीबीआई का कहना है कि इंद्राणी ने अपनी बेटी शीना को दक्षिण दिल्ली स्थित एक फ्लैट गिफ्त किया था, लेकिन राहुल से उसके रिश्ते को लेकर नाराज़ इंद्राणी ने साल 2010 में वह फ्लैट 1.10 करोड़ रुपये में बेच दिया. सीबीआई की चार्जशीट के मुताबिक, शीना ने इसके बदले मुंबई में एक फ्लैट मांगा और इंद्राणी को धमकी दी कि अगर उसे फ्लैट नहीं दिया गया तो ऐसे दस्तावेज जगजाहिर कर देगी और उससे साबित हो जाएगा कि वह उसकी बहन नहीं, बल्कि बेटी है. सीबीआई ने कथित रूप से राहुल मुखर्जी के पास वे दस्तावेज बरामद किए हैं.
 
पीटर पर शीना की हत्या और साजिश रचने का आरोप
इसके साथ केंद्रीय जांच एजेंसी ने इंद्राणी मुखर्जी के पति एवं स्टार इंडिया के पूर्व सीईओ पीटर मुखर्जी पर शीना की हत्या और आपराधिक साजिश रचने का आरोप लगाया. सीबीआई का प्रतिनिधित्व करते हुए अतिरिक्त सॉलीसीटर जनरल अनिल सिंह ने कोर्ट को यह भी बताया कि पीटर इस हत्या से पहले, इसके दौरान और इसके बाद इंद्राणी से लगातार बातचीत कर रहे थे.
 
सिंह ने आरवी अदोणे की अदालत को बताया कि पीटर ने वारदात को अंजाम देने में सक्रिय भूमिका निभाई और शीना की हत्या के तथ्य को छिपाने के लिए अपने बेटे राहुल को गुमराह भी किया, आरोपपत्र में हत्या के लिए एक वित्तीय पहलू होने की बात कही गई है. इसमें कहा गया है कि शीना की पीटर के बेटे राहुल से शादी होने की स्थिति में मृतका की मां इंद्राणी मुखर्जी और उनके पति की सारी संपत्ति उसके नाम हो जाती, जो शीना को रास्ते से हटाने का मुख्य मकसद था.
 
आरोपपत्र के मुताबिक इंद्राणी अपने पूर्व पति संजीव खन्ना से हुई बेटी विधि से ज्यादा लगाव रखती थी। उसे डर था कि अगर शीना और राहुल शादी करते हैं तो इनके नाम सारी संपत्ति हो जाएगी. ‘इस संदर्भ में शीना की हत्या के लिए इंद्राणी ने खन्ना और कार चालक श्याम राय के साथ साजिश रची.’ 
 
(एजेंसी इनपुट भी)