देहरादून. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने गुरुवार को गाय की हत्या करने वालों को भारत का सबसे बड़ा दुश्मन बताया है. हरीश ने कहा कि गोहत्या करने वालों को भारत में रहने का कोई अधिकार नहीं है. रावत ने कहा कि उत्तराखंड में गौ हत्यारों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.
 
गोपाष्टमी के अवसर पर आयोजित एक समारोह को संबोधित करते हुए सीएम रावत ने कहा कि किसी भी संप्रदाय का कोई भी व्यक्ति हो, अगर वह हमारी गौमाता का वध करता है तो वह भारत को सबसे बड़ा दुश्मन है और उसे भारत में रहने का अधिकार नहीं है. उन्होंने कहा कि उत्तराखंड में जो गौमाता का वध करेगा, उसको कानून सख्त से सख्त दण्ड देगा और गौमता की रक्षा करने के लिए हमें चाहे किसी भी हद जाना पड़े हम पीछे नहीं हटेंगे.
 
मुख्यमंत्री ने कहा कि गौहत्यारों के खिलाफ उत्तराखंड सरकार ने सबसे पहले प्रस्ताव पारित किया था. उन्होंने कहा कि उन पर संत महा पुरुषों की असमी कृपा हैं और उनके द्वारा दिए गए प्रस्तावों पर वह मोहर लगा रहे हैं. रावत ने कहा कि हमारी ऐसी पहली सरकार जो गौमाता के लिए जमीन भी देती है और चारे के लिए पूरा सहयोग करती है. हरीश रावत ने इस समारोह में भाजपा सांसदों पर भी जमकर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि गाय और गंगा की बात करने वाले भाजपा सांसद अर्धकुंभ के लिए एक फूटी कौड़ी तक केंद्र से नही दिला सकें.