नई दिल्ली. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अपने चार दिवसीय यात्रा के लिए मलेशिया और सिंगापुर के लिए रवाना होंगे. वो पहले आसियान और ईस्ट एशिया समिट में हिस्सा लेंगे. प्रधानमंत्री मोदा का यह दौरा 21 नवंबर से 24 नवंबर तक है. प्रधानमंत्री मोदी ने अपनी दो देशों की यात्रा से पहले कहा कि उनकी मलेशिया यात्रा का उद्देश्य ईस्ट एशिया समिट देशों के साथ व्यापारिक संबंध बनाना है, वहीं सिंगापुर दौरे में भारत में निवेश आकर्षित करने पर ध्यान दिया जाएगा. 
 
पीएम मोदी ने शनिवार से शुरू हो रही यात्रा के बारे में कहा, ”मैं चार दिन की यात्रा पर मलेशिया और सिंगापुर जाउंगा.” पीएम मोदी मलेशिया में 21 नवंबर को आसियान-भारत शिखर-सम्मेलन में भाग लेंगे और अगले दिन 10वें ईस्ट एशिया समिट में शिरकत करेंगे. वह मलेशिया के प्रधानमंत्री नजीब रजाक और सम्मेलन में भाग ले रहे कुछ अन्य वैश्विक नेताओं से भी बात करेंगे.
 
उन्होंने कहा कि आसियान-भारत और ईस्ट एशिया समिट महत्वपूर्ण समय में हो रहे हैं और हम मिलकर सुरक्षा मुद्दों पर बात करेंगे. आतंकवाद के उभरते खतरे और पश्चिम एशिया के मौजूदा हालात पर भी चर्चा होगी. सिंगापुर में वह प्रधानमंत्री ली सीन लूंग से दोनो देशों के कूटनीतिक संबंधों के 50 साल पूरे होने के मौके पर द्विपक्षीय संबंधों को विस्तार देने के तरीकों पर विचार-विमर्श करेंगे.