श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के कुपवाड़ा में आतंकियों के साथ एनकाउंटर में शहीद हुए कर्नल संतोष महाडिक को गुरुवार को पूरे सैन्य-सम्मान के साथ अंतिम संस्कार दिया गया. रक्षामंत्री मनोहर पर्रिकर के साथ तीनों सेनाओं की ओर से कर्नल संतोष महाडिक को श्रद्धांजलि दी. बुधवार को श्रीनगर में आर्मी के जवानों ने वीर शौर्य की सराहना करते हुए संतोष के रेजिमेंट के अफसरों ने उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर दिया. 
 
कर्नल संतोष 41 राष्ट्रीय रायफल में कमांडिंग अफसर थे. सेना के जनरल ऑफिसर कमांडिंग इन चीफ लेफ्टिनेंट जनरल डीएस हुड्डा ने कर्नल की शहादत पर उनके परिजनों के  साथ अपनी संवेदना जताई. 
 
महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फडणवीस ने कर्नल संतोष महाडिक को श्रद्धांजलि अर्पित की. फडणवीस ने कहा कि राज्य और पूरा देश कर्नल महाडिक के परिवार के साथ रहेगा और उनके परिवार के कल्याण की पूरी जिम्मेदारी लेगा.
 
बता दें कि कुपवाड़ा के हाजी नाका के जंगलों में आतंकियों के छिपे होने की सूचना सिक्युरिटी फोर्सेस को मिली थी. इसके बाद 13 नवंबर एक सर्च ऑपरेशन चलाया गया. कर्नल संतोष मंगलवार को आतंकियों के साथ मुठभेड़ कर रहे थे. इस मुठभेड़ में कर्नल संतोष के सर में गोली लग गई थी.