नई दिल्ली. जम्मू-कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री फारुख अब्दुल्ला ने कहा है कि गाय की हत्या से अगर हिन्दू समुदाय को दिक्कत है तो मुसलमानों को ऐसा काम नहीं करना चाहिए. अब्दुल्ला ने इस मौके पर मंच से ‘रघुपति राघव राजा राम’ भजन भी गाया. हालंकि अब्दुल्ला ने आतंकवाद के लिए अमेरिका और ब्रिटेन समेत कुछ पश्चिमी देशों को जिम्मेदार ठहराते हुए कहा कि दशहतगर्दी को जन्म देने वाले मुल्क अब खुद इसकी आंच में तपने पर चिल्ला रहे हैं.
 
कल्कि महोत्सव में शिरकत करने आये अब्दुल्ला ने संवाददाताओं से कहा कि अमेरिका, ब्रिटेन तथा कुछ अन्य प्रमुख पश्चिमी देश आतंकवाद के लिये जिम्मेदार हैं. इन ताकतों ने ही आतंकवाद पैदा किया और अब जब दहशतगर्द लोग उन पर ही हमले कर रहे हैं तो वे चिल्ला रहे हैं. पूर्व केंद्रीय मंत्री ने कहा कि मुसलमान कभी आतंकवादी नहीं हो सकता. दहशतगर्द तो वे ही लोग हैं जिन्हें अमेरिका और उसके साथियों ने खडा किया है.जम्मू-कश्मीर विवाद को सिर्फ बातचीत से ही हल किये जाने की जरुरत पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि इस मसले को लेकर पाकिस्तान से चार बार लडाई हो चुकी है लेकिन कोई हल नहीं निकला.