नई दिल्ली. ‘मैगी विवाद’ के बाद अब बाबा रामदेव के आटा नूडल्स पर भारतीय खाद्य सुरक्षा एवं मानक प्राधिकरण (FSSAI) ने सवाल उठाए हैं. एफएसएसएआई अधिकारियों का कहना है कि जब प्राधिकरण से पतंजलि आटा नूडल्स के लिए प्रॉडक्ट अप्रूवल नहीं लिया तो उसे लाइसेंस नंबर कैसे दे दिया गया? जबकि पैकेट के ऊपर लाइसेंस नंबर साफ-साफ लिखा है.
 
अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस अखबार के मुताबिक एफएसएसएआई के अध्यक्ष और सीईओ आशीष बहुगुणा ने बताया कि लाइसेंस राज्य सरकारों द्वारा दिया जाता है और प्रॉडक्ट्स का अप्रूवल हम करते हैं. जब अप्रूवल ही नहीं लिया गया तो लाइसेंस कैसे दे दिया गया?
 
इस मामले में जब बाबा रामदेव के प्रवक्ता से बात करने की कोशिश की तो जवाब मिला कि मुझे तकनीकी जानकारी नहीं है, इस बारे में अगले दिन जानकारी मुहैया करवा दी जाएगी.