चेन्नई. तमिलनाडु में पिछले हफ्ते से जारी बारिश के चलते अब तक करीब 105 लोगों के मारे जाने की खबर है. सोमवार को तूफान के असर से तमिलनाडु के अलावा आंध्र प्रदेश और कर्नाटक के कई इलाकों में भी भारी बारिश हो रही है. बता दें कि तमिलनाडु में 9 नवंबर से तेज बारिश हो रही है. 
 
बुरी तरह प्रभावित है तमिलनाडु
बारिश का सबसे ज्यादा असर तमिलनाडु में पड़ा है. चेन्नई समेत कई शहर बुरी तरह प्रभावित हैं. तमिलनाडु के 24 जिलों में सभी स्कूल और कॉलेजों की छुट्टी कर दी गई है. मौसम विभाग ने मंगलवार शाम तक भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. कांचीपुरम और तिरुवल्लुर जैसे शहरों में भी कई इलाके जलमग्न हैं. तमिलनाडु के कई शहरों में नदी-नाले उफान पर हैं, चेन्नई के कई निचले इलाके पूरी तरह से पानी में डूब चुके हैं. राज्य के बाकी हिस्सों में रेल और रोड ट्रैफिक बुरी तरह प्रभावित हुआ है.
 
बारिश रुकने की संभावना नहीं
मौसम विज्ञानियों के मुताबिक, चेन्नई में बीते 24 घंटे में 256 मिलीमीटर बारिश हुई है. नवंबर महीने में अभी तक करीब 1000 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की जा चुकी है. इस बीच, मौसम विभाग ने आगे भी राज्य में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है. रीजनल मौसम विभाग के साइंटिस्ट एसआर रामानन के बताया कि हालांकि बंगाल की खाड़ी में उठा तूफान श्रीलंका के आसपास ठहर गया है, लेकिन इसके असर से अगले 2-3 दिन तमिलनाडु, आंध्र प्रदेश और कर्नाटक के तटीय इलाकों में भारी बारिश होती रहेगी. मौसम विभाग के मुताबिक, साउथ अंडमान क्षेत्र में बने कम दबाव के क्षेत्र की वजह से तमिलनाडु में भारी बारिश हो रही है. देश के तीन तटीय राज्यों में पिछले 9 नवंबर से बारिश का सिलसिला जारी है. बारिश और खराब मौसम के चलते राशन, दूध और जरूरी सामान की किल्लत बढ़ने लगी है.