नई दिल्ली. लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी के रणनीतिकार रहे प्रशांत किशोर बिहार में नीतीश कुमार की जीत के बाद राजनीतिक गलियारों में ट्रेंड कर रहे हैं. शुक्रवार को दिल्ली में कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से मुलाकात के साथ ही ये चर्चा शुरू हो गई है कि प्रशांत अब राहुल के लिए अहम जिम्मेदारी उठा सकते हैं.

अंग्रेज़ी अखबार इंडियन एक्सप्रेस के फोटोग्राफर अनिल शर्मा ने राहुल गांधी और प्रशांत किशोर की कैजुअल ड्रेस में एक फोटो अपने कैमरे में कैद की है जो मुलाकात के बाद प्रशांत के निकलने वक्त की लगती है. ये फोटो हजार शब्दों पर भारी है जिसे देखकर कोई भी समझ सकता है कि राहुल और प्रशांत आने वाले दिनों में और गहरे रिश्ते की तरफ बढ़ने वाले हैं.

राहुल के लिए अमेठी में काम कर चुके हैं प्रशांत किशोर

प्रशांत और राहुल का रिश्ता वैसे तो पुराना है क्योंकि प्रशांत राहुल के लिए अमेठी के चुनाव में बहुत पहले काम कर चुके हैं लेकिन फिर अलग हो गए. उसके बाद ही वो नरेंद्र मोदी के साथ लोकसभा चुनाव में रहे. लेकिन मोदी से अलग होने के बाद वो नीतीश के साथ हो गए.

प्रशांत किशोर बिहार चुनाव में नीतीश कुमार और लालू यादव के लिए महागठबंधन की चुनावी रणनीति बना रहे थे और महागठबंधन को बड़ी जीत के बाद राजनीतिक हलकों में उनकी पूछ बढ़ गई है. कई पार्टियां उनकी सेवा लेने के लिए उनसे संपर्क कर रही हैं.

राहुल से पहले आडवाणी और शौरी से भी मिले प्रशांत

प्रशांत का शुक्रवार राजनीतिक मेल-मुलाकातों में ही बीता. प्रशांत ने राहुल से पहले बीजेपी नेता लालकृष्ण आडवाणी और अरुण शौरी से मुलाकात की. हालांकि सबने शिष्टाचार मुलाकात बताया है लेकिन राजनीतिक शिष्टाचार में कब क्या हो जाए, ये कौन कह सकता है.