नई दिल्ली. गोमांस को लेकर चल रहे विवाद में बीजेपी के सहयोगी अकाली दल ने सरकार से कहा है कि किसी के खाने में दखल देना ठीक नहीं है. बिहार चुनाव के अंतिम दौर के मतदान से ठीक पहले इस बयान के कई मायने निकाले जा रहे हैं. अकाली दल ने साफ़ किया है कि वो किसी के खाने के मुद्दे पर दखल को सही नहीं मानती है. 
 
केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने कहा है कि भारत जैसे लोकतान्त्रिक देश में किसी को भी किसी और के धार्मिक मान्यताओं और उसकी खाने पीने की छीज़ों में दखल नहीं देना चाहिए. उन्होंने कहा कि देश में कुछ ऐसी ताकतें हैं, जो भारत की प्रगति और सरकार के विकास के काम नहीं देखना चाहते, इसलिए वो ऐसा माहौल बनानी की कोशिश कर रहे हैं. हरसिमरत कौर बादल ने कहा, दूसरों के धार्मिक विश्वास और खानपान में किसी को दखल नहीं देना चाहिए.