चेन्नई. साहित्यकारों और कलाकारों के अवार्ड वापसी पर आपत्ति जताते हुए अभिनेता कमल हासन ने कहा है कि अवार्ड लौटाने से कुछ हासिल नहीं होने वाला सिवा इसके कि इससे सरकार जलील होगी या वो लोग जिन्होंने ये अवार्ड दिए हैं.
 
कमल हासन ने कहा कि अवार्ड वापसी एक निरर्थक अभियान है जिससे कोई ठोस समाधान नहीं निकलने वाला. उन्होंने कहा कि अगर देश में असहिष्णुता है तो उसे बौद्धिक तरीके से ही निपटा जा सकता है.
 
हासन ने कहा कि वो सरकार को बेइज्जत करने के अवार्ड वापसी अभियान का हिस्सा नहीं बनेंगे. उन्होंने कहा कि इस मसले पर सरकार का ध्यान खींचने के कई और तरीके थे.