मुंबई. कई साहित्यकारों, फिल्मकारों के अवॉर्ड लौटाने के मुद्दे पर शाहरुख़ खान ने कहा है कि अगर मुझसे अवॉर्ड लौटाने के लिए कहा जाएगा तो सांकेतिक तौर पर मैं भी अवॉर्ड लौटा दूंगा. 
 
एक निजी चैनल के कार्यक्रम में शाहरुख़ ने कहा कि देश में इस समय असहनशीलता तेजी से बढ़ रही है. शाहरुख ने एक मुस्लिम के तौर पर भारत में अपनी जिंदगी के बारे में भी बात की.
 
 
उन्‍होंने कुछ पुरानी घटनाओं को याद करते हुए कहा कि कैसे उनके बयान पर विवाद खड़ा हो गया था और उन्‍हें सफाई देनी पड़ी थी. उन्होंने कहा, ‘मेरी देशभक्ति पर कोई सवाल नहीं उठा सकता. कोई कैसे यह हिमाकत कर सकता है?’ 
 
इसके अलावा शाहरुख खान ने देश में बढ़ रही असहिष्णुता पर भी बयान दिया है. उन्होंने कहा है कि देश में इस समय असहिष्णुता नहीं, जबर्दस्त असहिष्णुता की स्थिति है.