नई दिल्ली. देश में बढ़ती असहिष्णुता पर चिंता जाहिर करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और उपाध्यक्ष राहुल गांधी मोदी सरकार की शिकायत राष्ट्रपति से करने पर विचार कर रहे हैं. सोनिया और राहुल इस सप्ताह राष्ट्रपति से मुलाकात कर सकते हैं.

कांग्रेस के कुछ नेताओं का कहना है कि कांग्रेस अध्यक्ष और उपाध्यक्ष के अलावा पार्टी के  वरिष्ठ नेता और कुछ सांसद इस सप्ताह राष्ट्रपति से मुलाकात कर सकते हैं. रिपोर्ट्स के मुताबिक पार्टी के  वरिष्ठ नेता और सांसद राष्ट्रपति से मिल कर उन्हें असहिष्णुता के मुद्दे से अवगत कराएंगे.

सुत्रों का कहना है कि कांग्रेस राष्ट्रपति से केंद्र सरकार के खिलाफ कठोर कदम उठाने का आग्रह करेंगे. इसके लिए वो संसद से राष्ट्रपति भवन तक एक रैली का आयोजन भी करेंगे.  

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया का कहना है कि संगठन और एक खास विचारधारा के लोग जनता को बांटने के लिए इसका प्रसार कर रहे हैं. नफरत, हिंसा और तुच्छ सोच सुनियोजित योजना का हिस्सा है. सोनिया ने कहा कि हम ऐसे द्वेषपूर्ण इरादों को सफल नहीं होने देंगे. इनसे देश की नींव हिल जाएगी. अब हम ये लड़ाई लड़ने के लिए तैयार हैं.