लखनऊ. बीएसपी प्रमुख मायावती पर हमला बोलते हुए सपा ने उन्हें प्रदेश की राजनीति में एक अजूबा करार दिया है. सपा ने कहा कि प्रदेश की राजनीति में बीएसपी अध्यक्ष किसी अजूबा से कम नहीं हैं और उन्हें तो पार्को व स्मारकों पर पैसा उड़ाने के लिए जनता से माफी मांगनी चाहिए.
सपा के प्रदेश प्रवक्ता राजेंद्र चौधरी ने कहा कि मायावती को महंगे जेवरात और नोटों की माला पहनने का शौक रहा है. अपने कार्यकाल में उन्होंने प्रदेश के खजाने को लूटने के अलावा दूसरा काम नहीं किया. अब जब सत्ता से बाहर हैं और आगे भी सत्ता में फिर आने की दूर-दूर तक संभावना नहीं रह गई है, वे अपने किए पर पर्दा डालने में लग गई हैं.
 
 
चौधरी ने कहा कि बसपा अध्यक्ष का यह बयान कि अब वे पार्को, स्मारकों और संग्रहालयों का निर्माण नहीं कराएंगी. अब यह उनकी स्वीकारोक्ति ही है कि पांच साल के बीएसपी राज में उन्होंने निरंकुशता के साथ जनता की गाढ़ी कमाई महापुरुषों के साथ अपनी प्रतिमाएं लगाने में लुटाई थी.
 
बता दें कि शनिवार को मायावती ने कहा था कि जब प्रदेश में उनकी सरकार आएगी तो वह अब पार्क व स्मारक नहीं बनवाएंगी और राज्य में फैली गुंड़ा गर्दी को खत्म कर प्रदेश में लोकतंत्र लाएंगी.