नई दिल्ली. देश की राजधानी दिल्ली के त्रिनगर इलाके से करवाचौथ के दिन एक हैरान कर देने वाली घटना सामने आई है. करवाचौथ की रात विक्रम भाटिया नाम के एक शख्स ने अपनी पत्नी और 3 साल के मासूम बच्चे की जान ले ली. आरोपी पति ने पत्नी और बच्चे की हत्या के बाद खुद को भी मारने की कोशिश की. विक्रम भाटिया नाम का ये आरोपी अस्पताल में जिंदगी और मौत के बीच जूझ रहा है.
 
विक्रम भाटिया अपनी पत्नी नीतू भाटिया और तीन साल के बेटे लवीत्र के साथ रहता था. विक्रम और नीतू ने प्रेम विवाह किया था. परिवार के सभी लोग इस बात से सदमे में हैं कि आखिर क्या वजह थी जो विक्रम भाटिया ने अपने ही परिवार की हत्या कर डाली. परिजनों का कहना है कि विक्रम की आर्थिक स्थिति कई महीनों से ठीक नहीं थी. जिसकी वजह से इनका गुजारा मुश्किल हो गया था. शायद यही वजह रही होगी कि विक्रम ने पहले अपनी बीवी और बच्चे की हत्या कर दी और फिर खुद भी आत्महत्या करने की कोशिश की.
 
पुलिस की मानें तो दोनों शव की हालत देखकर लग रहा था कि हत्याएं गुरुवार-शुक्रवार की दरमियानी रात को की गई हैं. लेकिन इस हत्याकाण्ड का पता शुक्रवार देर रात उस वक्त चला जब नीतू का भाई अपनी बहन के लिए खाना लेकर आया. काफी देर तक दरवाजा खटखटाने के बाद भी जब किसी ने दरवाजा नहीं खोला तो नीतू के भाई ने मकान मालिक को इस बात की जानकारी दी. जब मकान मालिक की मदद से दरवाजे को खोला गया तो सभी हैरान रह गए. मकान मालिक ने पुलिस को ये सूचना दी. मौके पर पहुंची पुलिस ने लाश को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमॉर्टेम के लिए भेज दिया. जबकि आरोपी विक्रम की हालत गंभीर बनी हुई है. पुलिस ने पूरे मामले की तफ्तीश शुरू कर दी है.