नई दिल्ली. केरल भवन के भोजन की सूची में बुधवार को भैंस के मांस से बने पकवान लौट आए और जमकर बिके. भैंस के मांस के पकवान को मंगलवार को एक दिन के लिए तब मीनू से हटा लिया गया था जब ‘बीफ’ के मुद्दे पर दिल्ली पुलिस छापा मारने केरल भवन पहुंच गई थी. उससे शिकायत की गई थी कि केरल भवन में बीफ (गोमांस ) परोसा जा रहा है. एक दिन बाद बुधवार को आलम यह रहा कि भैंस के मांस से बनी करी एक घंटे में ही बिक गई.
 
 
स्टाफ कैंटीन प्रबंधन समिति के ए.जे.संतोष ने कहा कि आम तौर से बीफ करी और बीफ फ्राई दोपहर 2 बजे तक बिकती है लेकिन बुधवार को डेढ़ बजते-बजते यह पूरी तरह खत्म हो गई. दोपहर के भोजन का समय 12.30 बजे से शुरू होता है. इससे साफ है कि एक घंटे के अंदर ही यह बिक गई.
 
उन्होंने कहा कि आम तौर से कैंटीन में एक दिन में 15 किलो बीफ इस्तेमाल होता है. मांग की वजह यह थी कि रोजाना कैंटीन आने वालों के साथ-साथ आज यहां पहली बार आने वाले भी बड़ी संख्या में पहुंचे.
 
 
संतोष ने कहा कि केरल भवन से जुड़े विवाद की वजह से ही बुधवार को भैंस के मांस के पकवान की इतनी मांग रही.
 
बता दें कि हिंदू सेना ने सोमवार को आरोप लगाया था कि केरल भवन में बीफ (गोमांस) परोसा जा रहा है. इसके बाद दिल्ली पुलिस के 20 अधिकारियों ने केरल भवन पर ‘छापा’ मारा था. इसके बाद आप ने दिल्ली पुलिस कमिश्नर का इस्तिफा मांगा था.