रामपुर. उत्तर प्रदेश के कैबिनेट मंत्री मोहम्मद आजम खान ने शनिवार को गोहत्या पर हिंदुओं को सलाह देते हुए कहा कि वे गाय को बेचना बंद कर दें, तभी गोहत्या पर रोक लगाई जा सकती है. इसके अलावा उन्होंने कहा कि देश में गाय के बेचने पर पाबंदी लगाई जाए.
 
हिंदुओं को सलाह देते हुए आजम ने कहा, ‘जिस गाय को आप मां का दर्जा देते हैं, वही जब दूध देना बंद कर देती है या बूढ़ी हो जाती है तो उसे बेच देते हैं. गाय को बेचने के बजाय उसकी रक्षा करें, सेवा करें और मरने के बाद उसे दफना दें. गोहत्या अपने आप बंद हो जाएगी.
 
रामपुर में पत्रकारों से वार्ता करते हुए आजम खां ने कहा कि बाबर के शासन काल में गाय के बेचने पर पाबंदी थी. उन्होंने बताया कि बहादुर शाह जफर के दौर में तो गाय के बेचने पर सजा-ए-मौत दी जाती थी. 
 
रेप के लिए मोबाइल फोन जिम्मेदार: आजम
इससे पहले भी आजम विवादित बयान दे चुके हैं. आजम खान ने रेप पर एक विवादित बयान देते हुए कहा था कि मोबाइल फ़ोन के यूज़ करने के कारण रेप के मामले बढ़ रहे हैं.गांव-गांव में मोबाइल फ़ोन की पहुंच से लोग आपत्तिजनक चीजें डाउनलोड करते हैं जिसके कारण समाज बहुत बुरा बन रहा है.  
 
गोमांस के मुद्दे पर देश में ‘सिविल वार’ न हो: आजम
उन्होंने कहा था कि देश में सिविल वार न हो. बीफ को लेकर हिंदू समाज में विरोधाभास शुरू हो गया है. अगर हिंदू मुसलमान से खौफ खाएगा और मुसलमान हिंदू से डरेगा तो देश कहां जाएगा.
 
IANS से भी इनपुट