पटना. बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और बीजेपी की सहयोगी पार्टी हम के अध्यक्ष जीतनराम मांझी ने हरियाणा में दलित बच्चों की हत्या के बाद जनरल वीके सिंह के कुत्ते वाले बयान पर एतराज जताते हुए कहा है कि अगर जनरल ने दलितों की तुलना कुत्तों से की है तो प्रधानमंत्री को उनके खिलाफ एक्शन लेना चाहिए.
 
मांझी ने कहा, “अगर वीके सिंह ने दलितों को जलाने पर उनकी तुलना कुत्ते से की है तो प्रधानमंत्री संज्ञान लेते हुए उन पर उचित कार्रवाई करें जिससे भविष्य में दलित अत्याचार पर कोई नेता इस तरह की बयानबाजी न करें.”
 
मांझी ने पूछा, दलित घर में जन्म लेना कौन सा गुनाह है
 
मांझी ने कहा कि कौन किस जाति या घर में जन्म ले, ये किसी के वश की बात नहीं है. कोई दलित के घर जन्म लेता है तो इसमें उसका क्या कसूर है और दलित होना कौन सा गुनाह है. 
 
मांझी ने कहा कि वो फरीदाबाद की घटना से मर्माहत हैं. उन्होंने अपराधियों की जल्द गिरफ्तारी और पीड़ित परिवार को न्याय दिलाने की मांग की है.