फरीदाबाद. फरीदाबाद के सुनपेड़ गांव में  कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने दलित परिवार से मुलाक़ात की. परिवार से मिलने की बाद राहुल गांधी ने सरकार पर हमला बोलते हुए कहा है कि ये गरीबों की सरकार नहीं है. देश में रोज कोई न कोई घटना हो रही है जिसमें गरीब लोग मारे और दबाए जा रहे हैं. राहुल ने कहा है कि वह इस मामले की सीबीआई जांच के लिए दबाव डालेंगे.
 
राहुल ने कहा कि हरियाणा में अत्याचार हो रहा है. दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होनी चाहिए. इसके अलावा उन्होंने कहा कि गरीब लोगों को दबाया जा रहा है. मैं उनके साथ खड़ा रहूंगा.
 
राहुल गांधी एक सवाल पर भड़के
राहुल गांधी पत्रकार द्वारा फ़ोटोऑप का सवाल किए जाने से भड़क गए और कहा कि यह बेइज्‍जत करने वाला है. अगर ऐसा कोई कहता है तो यह केवल मेरी नहीं, बल्कि इन लोगों की बेइज्‍जती है. लोग मर रहे हैं, पीटे जा रहे हैं, फॉटोऑप क्‍या होता है? अगर ऐसा है तो मैं यहां जरूर आऊंगा, हर बार आऊंगा.
 
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने की दलित परिवार से मुलाकात
कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने फरीदाबाद के सुनपेड़ गांव में उस दलित परिवार से मुलाकात की है जिन्हें सोमवार के दिन जिंदा जलाने की कोशिश की गई थी. इनमें दो बच्चों की मौत हो गई है और दो बुरी तरह झुलस गए हैं.
 
राहुल ने बच्चों के पिता से मुलाकात की. इस दौरान पिता ने राहुल से दर्द बयां करते हुए पूछा कि आखिर बच्चों की क्या गलती थी जिन्हें इतनी बड़ी सजा मिली. राहुल ने इस दौरान गांव के लोगों से भी बातचीत की है. राहुल के बाद हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर भी सुनपेड़ पहुंचेंगे.
 
क्या है मामला?
बता दें कि सोमवार के दिन आरोपियों ने परिवार पर अचानक हमला बोला था. पहले दलित लोगों की पिटाई की गई और फिर पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दी. सूत्रों के मुताबिक गांव के दबंगों ने पुरानी रंज़िश की वजह से इस वारदात को अंज़ाम दिया.
 
चार लोगों को किया जा चुका है गिरफ्तार
इस मामले में पुलिस के केस दर्ज़ कर लिया है. हरियाणा के एडीजीपी मोहम्मद अखिल ने बताया कि प्रारंभिक जांच के चार लोगों को गिरफ्तार किया गया.