मुंबई. सुप्रीम कोर्ट ने महाराष्ट्र में डांस बार पर लगे बैन को हटा दिया है. कई महिलाओं के लिए रोजी-रोटी का साधन डांस बार काफी समय से बहस का मुद्दा रहा है. महाराष्ट्र में कांग्रेस-एनसीपी सरकार ने डांस बार को बंद कर दिया था.

साल 2014 में तत्कालीन कांग्रेस-एनसीपी सरकार ने बार डांस पर पाबंदी लगा दी थी. सरकार ने इन जगहों को वेश्यावृत्ति का ठिकाना बताया था.

सुप्रीम कोर्ट ने गुरुवार को अपने फैसले में डांस बार को तो खोलने की इजाजत दे दी लेकिन लाइसेंस अधिकारियों को इस बात की छूट दी कि वो डांस कार्यक्रमों पर नजर रखें और इस बहाने अश्लील कार्यक्रमों पर कार्रवाई कर सकें.

मुख्‍यमंत्री देवंद्र फडणवीस ने कहा है कि सुप्रीम कोर्ट ने डांस बार बंद करने के बदले उनको रेगुलेट करने का आदेश दिया. फडणवीस ने कहा कि उनकी सरकार हालांकि इस पर बैन के पक्ष में है और इस फैसले की समीक्षा के बाद अपनी मांग पर सुप्रीम कोर्ट में जोर डालेगी.