मुंबई. महारष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेन्द्र फड़णवीस ने शिवसेना पर बड़ा हमला करते हुए कहा है कि सुधींद्र  कुलकर्णी घटना से महाराष्ट्र के सम्मान को नुकसान पहुंचा है. हम राज्य को एक अराजक स्थल नहीं बनने दे सकते. 
 
इसके अलावा उन्होंने कहा कि राज्य में कानून का शासन बना हुआ है. यदि आप किसी के विचारों से सहमत नहीं हैं तो अपने वैचारिक रुख और विरोध करने के कई और तरीके हो सकते हैं.  कल जिस तरह की घटनाएं हुई हैं, उससे महाराष्ट्र के सम्मान को ठेस पहुंची है. 
 
आपको बता दें कि सोमवार सुबह शिव सैनिकों ने बीजेपी के पूर्व थिंक टैंक सुधींद्र कुलकर्णी पर हमला कर उनके मुंह पर कालिख पोत दी थी. इस पर कुलकर्णी ने कहा कि वे कार्यक्रम स्थगित नहीं करेंगे. उन्होंने कहा कि ये मेरा अपमान नहीं बल्कि तिरंगे का अपमान है.
 
शिवसेना पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी की बुक ‘नाइदर अ हॉक नॉर अ डव’ के विमोचन का विरोध कर रही थी, जिसके वे हिस्सा थे. शिवसेना के कड़े विरोध के बाद पाकिस्तान के पूर्व विदेश मंत्री खुर्शीद महमूद कसूरी की किताब का विमोचन हो गया है. किताब के विमोचन पर कसूरी ने महाराष्ट्र सरकार को धन्यवाद दिया है. इससे पहले संयज राउत ने कुलकर्णी पर कालिख पोतने को लेकर कहा कि कालिख पोतना हिंसा नहीं है.