नई दिल्ली. मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने अपने एक मंत्री आसिम अहमद खान पर भ्रष्‍टाचार के आरोप लगने के बाद उन्हें मंत्री पद से हटा दिया है. आसिम पर एक बिल्‍डर से पैसे मांगने का आरोप है. बता दें कि आसिम पर 6 लाख की रिश्वत मांगने के आरोप लगे हैं.
 
सीएम केजरीवाल ने कहा कि अगर कोई भ्रष्ट है तो मैं उन्हें कतई नहीं बख्शूंगा, चाहे वह मेरा बेटा या मनीष सिसोदिया या कोई और भी क्यों ना हो. इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि हम यह केस जांच के लिए सीबीआई को भेज रहे हैं और उन्‍हें पार्टी से निकालने पर भी फैसला किया जाएगा. साथ ही उन्‍होंने बीजेपी से मांग की कि वह भ्रष्‍टाचार के आरोप में फंसे सीएम श्‍ािवराज सिंह को भी पद से हटाए.
 
असीम अहमद खान दिल्ली में खाद्य एवं पर्यावरण मंत्री थे और अब इमरान हुसैन उनकी जगह लेंगे. खान पर ‘बिल्डरों से साठगांठ’ के आरोप लगे थे. सीएम केजरीवाल ने एक ऑडियो रिकॉर्डिंग भी सुनाई, जिसे उन्होंने खान और बिल्डर के बीच हुई करीब एक घंटे की बातचीत का हिस्सा बताया. इसके साथ ही उन्होंने कहा, लोग हमें इमानदार नेता मानते हैं. हम यहां सत्ता के लिए नहीं हैं. इसलिए हम अपने मंत्रियों, विधायकों और अधिकारियों को भी नहीं बख्शेंगे.