नई दिल्ली. दादरी की घटना पर ऑल इंडिया मजलिस इत्तेहादुल मुस्लिमीन के अध्यक्ष और हैदराबाद के सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने यूपी की समाजवादी पार्टी के वरिष्ठ नेता आजम खान के उस बयान की आलोचना की है जिसमें उन्होंने दादरी हिंसा मामले  को यूएन में लेकर जाने की बात कही थी. ओवैसी ने कहा कि दादरी मामला मुल्क का अंदरूनी मामला है.

ओवैसी ने कहा कि अगर सपा सरकार मामले को यूएन में ले जाना चाहती है और  उसको भारत में यकीन नहीं है तो यूपी में राष्ट्रपति शासन लगा देना चाहिए. ओवैसी ने कहा कि दादरी की लड़ाई सपा सरकार की नाकामियों  और संघ परिवार की तरफ से की गई हरकतों के खिलाफ हैं.

उन्होंने कहा कि मुसलमानों की लडा़ई मुल्क से नहीं बल्कि ऐसी सरकार से है जो संवैधानिक जिम्मेदारियों को सही से नहीं निभा रही हैं. उन्होंने कहा कि मुलायम को बताना चाहिए कि क्या उनकी पार्टी यूपी में सरकार नहीं चला सकती ?