वाराणसी.  उत्तर प्रदेश के वाराणसी शहर में हिंसा के बाद मंगलवार सुबह स्थिति सामान्य रही. एहतियातन स्कूल और कॉलेजों को बंद रखा गया है. बनारस में घाटों और हिंसाग्रस्त इलाकों में भारी संख्या में पुलिसबल तैनात है, जो लगातार गश्त कर रहा है. बनारस में मंगलवार सुबह हालात पूरी तरह सामान्य दिखे. रोज की तरह गंगा के घाटों पर चहल-पहल रही.
 
बनारस के जिलाधिकारी राजमणि यादव ने बताया कि स्थिति पूरी तरह से सामान्य है. एहतियात के तौर पर आज स्कूल और कॉलेजों को बंद रखा गया है.
 
पिछले दिनों साधु-संतों पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में सोमवार को संत समाज की ओर से प्रतिकार यात्रा निकाली गई थी. इस यात्रा में करीब आठ से 10 हजार लोग शामिल हुए थे. यात्रा के दौरान कुछ अराजक तत्वों ने पुलिस पर पथराव किया, जिसके बाद हालात बिगड़ गए. पुलिस को हालात पर काबू पाने के लिए लाठीचार्ज करना पड़ा और आंसू गैस के गोले दागने पड़े.
 
पुलिस महानिदेशक कार्यालय के मुताबिक, इस घटना में 16 अधिकारी एवं कर्मचारी घायल हुए थे, जबकि 12 अन्य लोग भी घायल हुए थे जिनमें दो पत्रकार भी शामिल हैं. सभी का इलाज चल रहा है.
 
IANS