नई दिल्ली. राजधानी दिल्ली की ‘लाइफलाइन’ कही जाने वाली दिल्ली मेट्रो की सुरक्षा में बड़ी चूक का मामला सामने आया है. गुरूवार रात दिल्ली मैट्रो के राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर एक युवक ने रिवाल्वर से खुद को गोली मार दी.

बता दें कि 22 साल का शि‍वेश यूपी के फतेहपुर का रहने वाला है. शि‍वेश ने चांदनी चौक मेट्रो स्टेशन से ट्रेन पकड़ी थी. राजीव चौक मेट्रो स्टेशन पर ट्रेन बदलने के वक्त वो प्लेटफॉर्म पर रुका और किनारे जाकर खुद को गोली मार दी. उसने अपने सिर पर गोली मारने की कोशिश की थी. हालांकि निशाना चूक गया और गोली उसके कंधे पर लगी.

गोली चलने की आवाज सुनकर CISF के जवान मौके पर पहुंचे और पुलिस को सूचना देने के साथ ही घायल युवक को अस्पताल भेजा. अब इस बात पर भी सवाल उठ रहा है कि आखिर वह मेट्रो स्टेशन के अंदर रिवॉल्वर ले जाने में कामयाब कैसे हुआ? घटना की जांच शुरू कर दी गई है. पता चला है कि वो अपने पिता के इलाज के लिए दिल्ली आया हुआ था. शि‍वेश के पिता अपोलो अस्पताल में भर्ती हैं. लोकल पुलिस इस बात की जांच कर रही है कि उसे रिवॉल्वर कहां से मिली और उसने खुद पर गोली क्यों चलाई.

सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट करना चाहता था

उधर शिवेश ने बयान दिया है कि उसने मेट्रो परिसर मे गोली से अपने को घायल इसलिए किया क्योंकि वो सुरक्षा एजेंसियों को अलर्ट करना चाहता था. उसने 28 तारिख को अलिगढ़ के रेलवे स्टेशन पर दो लोगों बात करते हुए सुना जिसमें वो ‘मेट्रो, 2 अक्‍टूबर और हादसे’ की बात कर रहे थे. उनके पास बड़ी मात्रा मे बंदूकें और मैगजीन भी थे. उनकी बातों से शिवेश को लगा कि वो 2 अक्‍टूबर को दिल्ली मेट्रो मे कोई हादसा करने का प्लान कर रहे हैं. इसकी सूचऩा उसने अलिगढ़ में पुलिसकर्मियों से साझा करने की कोशिश की लेकिन किसी ने उसकी नहीं सुनी, इसलिए उसने मेट्रो परिसर में कट्टा ले जा कर अपने को गोली मारी.