नई दिल्ली. दिल्ली के पूर्व कानून मंत्री सोमनाथ भारती की याचिका पर एक और जहां सुप्रीम कोर्ट आज यानी गुरुवार को सुनवाई करेगा, वहीं पुलिस आज उन्हें द्वारका कोर्ट में पेश करेगी. सुप्रीम कोर्ट सोमनाथ और उनकी पत्नी के बीच मध्यस्थता को लेकर सुनवाई करेगा. सोमनाथ भारती की दो दिन की पुलिस रिमांड भी आज ख़त्म हो रही है.
 
सोमनाथ को कोर्ट ने लगायी थी फटकार
पिछली सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने सोमनाथ भारती से कहा था कि वह पहले पुलिस से सामने सरेंडर करें, उसके बाद कोर्ट उनकी याचिका पर सुनवाई करेगा. इसके बाद भारती ने सोमवार देर रात द्वारका थाने में सरेंडर किया था. सोमनाथ भारती जांचकर्ताओं के सवालों के जवाब देते देते रो पड़े. जांचकर्ता उन्हें उनके द्वारका स्थित उनके आवास पर ले गए थे जहां दहेज प्रताड़ना और हत्या के प्रयास के मामलों के सिलसिले में उनका उनकी पत्नी से आमना सामना कराया गया. पुलिस ने भारती के खिलाफ दायर प्राथमिकी में भारतीय दंड संहिता की धारा 212 भी जोड़ दी है, जो अपराधी को पनाह देने से जुड़ी है. पुलिस ने बताया कि अब तक पांच व्यक्तियों की पहचान हुई है, जिन्होंने विधायक की फरारी के दौरान भारती को पनाह दी.