अहमदाबाद.  मुंबई में मीट पर प्रतिबंध को लेकर राजनीतिक सियासत में हलचल मची हुई है और अब मीट की बिक्री पर प्रतिबंध की लहर राजस्थान से लेकर अहमदाबाद तक पहुंच गयी है. जैन समुदाय के शुरू हो रहे पर्व पर्युषण के लिये मीट की बिक्री पर प्रतिबंध लगाया गया है. जैन समुदाय 10 सितंबर से 17 सितंबर के बीच पर्युषण पर्व मना रहा है.
 
 
अहमदाबाद के कमिश्नर के आदेश के बाद लोग बूचड़खानों के बाहर और सार्वजनिक स्थलों पर जानवरों का वध नहीं कर सकेंगे. आदेश का उल्लंघन करने पर धारा 188 (पुलिस अधिसूचना का उल्लंघन) के तहत दंडित किया जाएगा. हालांकि अहमदाबाद पुलिस की अधिसूचना में बूचड़खानों के भीतर जानवरों को मारने पर कोई रोक नहीं लगाई गई है.
 
मीट की बिक्री का यह विवादित मसला महाराष्ट्र से शुरू हुआ और बाद में राजस्थान, जम्मू कश्मीर और अहमदाबाद में भी प्रशासन की ओर से ऐसे ही आदेश जारी किए गए. गौरतलब है कि मुंबई में मीट पर प्रतिबंध को लेकर बढते प्रदर्शनों के बाद मुंबई हाईकोर्ट ने कहा कि मांस की बिक्री पर रोक का निर्णय व्यवहारिक नहीं है.