नई दिल्ली. संघ के मुखपत्र आर्गनाइजर में लिखे लेख में दावा किया गया है कि दिल्ली के औरंगजेब रोड को बदलने का सुझाव पाकिस्तान के एक मुस्लिम पत्रकार ने दिया था. लेख में लिखा है कि रोड का नाम बदलने का सुझाव पाकिस्तान के पत्रकार तारिक फतह का था.
 
 
तारिक अब कनाडा में रहते हैं. रोड का नाम बदलने की संस्कृति को संघ ने  पुनरुत्थान’ करार दिया है. इससे पहले  एनडीएमसी ने  औरंगजेब  रोड का नाम बदलकर  डा. एपीजे अब्दुल कलाम रोड कर दिया था.