अगरतला. त्रिपुरा के राज्यपाल तथागत रॉय के एक और बयान पर विवाद खड़ा हो गया है. उन्होंने अपने एक ट्वीट में कहा कि वह सेक्युलर नहीं हिंदू हैं. रॉय ने लिखा है, ‘आपकी यह राय कैसे बनी कि मैं सेक्युलर हूं? मैं एक हिंदू हूं. हालांकि मेरा देश भारत 1976 से सेक्युलर है.’ एक शख्स अरुण नांबियार के ट्वीट के जवाब में रॉय ने यह कमेंट किया है. 
 

 
ट्विटर पर एक बहस के दौरान रॉय के ये बयान सामने आए. इसके पहले नांबियार ने रॉय के बयान का स्नैपशॉट ट्वीट किया. इस बयान में रॉय ने कहा था, ‘शेख हसीना हिंदुओं से कहती हैं कि अल्पसंख्यक कहकर खुद को गिराओ मत. आप यहां रहेंगे क्योंकि यह आपकी मातृभूमि है.’
 
नांबियर ने टिप्पणी की, ‘तो अब बांग्लादेशी तथागत को सेक्युलर होना सिखा रहे हैं.’ बाद में रॉय ने कहा किसी धर्म को मानने वाला सेक्युलर नहीं हो सकता. परिभाषा में ही विरोधाभास है. हर जगह अज्ञानता और भ्रम पसरा है. मई में त्रिपुरा के राज्यपाल बनाए जाने के बाद से रॉय के ट्वीट्स पर कई बार विवाद हो चुका है. उन्होंने अपने ट्विटर पर भी लिखा है, ‘राज्यपाल, लेकिन तब भी एक गर्वित स्वयंसेवक.’