नई दिल्ली. आम आदमी पार्टी में पंजाब में जारी उठा-पटक अभी भी जारी है. दरअसल सोशल मीडिया पर पार्टी सांसद भगवंत मान और निलंबित सांसद धर्मवीर गांधी के बीच हुई बातचीत का ऑडियो वायरल हो गया, जिसके बाद ये नया विवाद खड़ा हुआ है. इस बातचीत में भगवंत मान भी पार्टी आलाकमान से खफा नजर आ रहे हैं. 
 
हालांकि अभी ये साफ नहीं है कि आवाज मान की ही है या नहीं, इस टेप में मान और धर्मवीर गांधी ने दिल्ली से पंजाब की राजनीति को चलाने, पंजाब के चारों सांसदों को नजरअंदाज कर राज्य की बागडोर को अनजान लोगों के हाथ में सौंपे जाने का विरोध किया है. बातचीत में मान अपनी भड़ास निकाल रहे हैं, जबकि गांधी उनकी हां में हां मिला रहे हैं. कथित टेप में वो कह रहे हैं कि पंजाब में जो लोग जीते हैं वो अपनी छवि से जीते हैं. किसी ने पार्टी के नाम पर वोट नहीं दिया हालांकि पार्टी प्रवक्ता आशुतोष ने ऐसे किसी भी विवाद से इनकार किया है.
 
हालांकि इस संबंध में सांसद भगवंत मान का पक्ष जानने की कोशिश की गई, लेकिन उनसे संपर्क नहीं हो सका. वहीं, डॉ. गांधी ने इस फोन रिकार्डिंग के सार्वजनिक होने को राजनीतिक साजिश बताया है. गुस्से का इजहार करते हुए सांसद गांधी कहते हैं, ‘अब तो हद हो गई कि सांसद के फोन भी टैप होने शुरू हो गए. मेरी सांसद मान से यह बातचीत कई माह पहले की है, जिसे अब सामने लाने का कोई औचित्य ही नहीं है.