नई दिल्ली. केंद्र सरकार ने  पर्यावरण के लिए काम करने वाली संस्था ग्रीनपीस का एफसीआरए लाइसेंस रद्द कर दिया है. एनजीओ के खिलाफ कार्रवाई करते हुए ग्रीनपीस का एफसीआरए पंजीकरण रद्द किया गया है. अब एनजीओ विदेश से कोई धनराशि प्राप्त नहीं कर सकेगा. इस संस्था में करीब 350 लोग काम करते हैं.
 
 
 
 
सरकार ने कहा है कि उसने विदेशी अंशदानों के बारे में बार-बार कम और गलत राशि का उल्लेख किया. वहीं ग्रीनपीस ने इस पर कहा है कि वह सरकार के ‘अभियानों को चुप’ कराने से परेशान नहीं होगा.