नई दिल्ली. नरेंद्र मोदी सरकार के 15 महीने पूरे होने के बाद एक बार फिर भारतीय जनता पार्टी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के बड़े नेता सरकार के कामकाज की समीक्षा के लिए आज बैठक करने जा रहे हैं.
 
बैठक में विभिन्न मुद्दों पर विचार मंथन किया जाएगा. इसमें प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा प्रमुख अमित शाह की भागीदारी भी होगी.  दिलचस्प बात है कि बैठक में बीजेपी के वरिष्ठ नेता लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी को नहीं बुलाया गया है.
 
 
आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत इस बैठक में मौजूद रहेंगे. आरएसएस प्रमुख मनमोहन वैद्य के मुताबिक इस बैठक में सभी जरुरी मुद्दों पर चर्चा संभव है. बिहार चुनाव को देखते हुए बैठक अहम मानी जा रही है.