अहमदाबाद. आरक्षण की मांग को लेकर धरना दे रहे  पाटीदार समुदाय के नेता हार्दिक पटेल को पुलिस ने लाठीचार्ज करने के बाद हिरासत में ले लिया है. पुलिस ने बिना अनुमति के धरना देने के आरोप में गिरफ्तार किया है. पुलिस ने गिरफ्तार करने से पहले हार्दिक के समर्थकों पर लाठीचार्ज भी किया. हार्दिक को पुलिस किसी अज्ञात स्थान पर ले गई है.  वहीं गुजरात की आनंदीबेन पटेल सरकार ने हार्दिक से बात करने के लिए अपने पटेल नेताओं को आगे कर दिया है.
 
 
 
इससे पहले हार्दिक ने महारैली करके आज गुजरात सरकार पर हमला बोला थी.  हार्दिक ने साफ़ कर दिया है कि अगर आरक्षण नहीं दिया गया तो 2017 में कमल खिलना नामुमकिन है. रैली को संबोधित करते हुए हार्दिक पटेल ने कहा, अगर एक पटेल (सरदार पटेल) देश को जोड़ सकता है, तो हम राज्य में 80 लाख हैं, पूरे देश में 27 करोड़ हैं.
 
हार्दिक ने कहा, पटेल समाज को उसका हक और न्याय मिलना चाहिए. हमारी मांगें सही हैं. मैं किसी पार्टी से नहीं जुड़ा हूं, पटेल समाज को हक मिले, हमारी मांगे सही हैं. हमारी लड़ाई सिस्टम के खिलाफ है. हार्दिक ने कहा, देश में सबसे ज्यादा सांसद हमारे हैं. प्यार से हक दो, नहीं तो छीन लेंगे. अगर हमारे हित की बात नहीं मानी तो 2017 में कमल नहीं खिलेगा. हम भीख नहीं मांग रहे हैं, हम पार्टी नहीं पार्टीदार से प्रेरित हैं. हम जहां निकलते हैं वहीं पर क्रांति शुरू हो जाती है.