अमेठी. एक दिन के अमेठी दौरे पर पहुंचीं केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने एक जनसभा में राहुल गांधी और गांधी परिवार पर जमकर निशाना साधा है. उन्होंने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी पर कहा कि राजनीति में मर्यादा में रहकर तंज करना चाहिए. उन्होंने अमेठी से गांधी परिवार को साफ़ करने तक का ऐलान कर दिया. स्मृति यहीं नहीं रुकी उन्होंने ये भी कहा कि अस्सी के दशक में जिस कंपनी के लिए किसानों की जमीन ली गई, वहां न तो कंपनी खुली और ना ही लोगों को रोजगार मिला और किसानों पर बोलनेवालों ने किसानों की जमीन राजीव गांधी ट्रस्ट को दे दी. 
 
स्मृति ने कहा कि अगर राहुल जी ये कहते हैं की वो एक इंच भी जमीन किसी को नहीं देगें, इसका मतलब वो ये कह रहे हैं कि सारा वही ले लेंगे। सदन में 2 मिनट भी बोलना था राहुल जी को उसके लिए भी कागज लेकर आए थे, मैं तो चर्चा के लिए हमेशा तैयार हूं, जब भी जनता के मुद्दों की बात होती है राहुल जी अनुपस्थित रहते हैं. जब अमेठी में स्मृति का काफिला गुजर रहा था, तो एक महिला रोते हुए उनके पास अपनी समस्या लेकर आई.  महिला ने आरोप लगाया कि पुलिस जबरन उसके बेटे को उठा ले गई है. इसके बाद स्मृति ईरानी ने स्थानीय दारोगा को बुलाकर महिला की समस्या सुलझाने को कहा.
 
गौरतलब है कि केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी आज 1 दिन के अमेठी दौरे पर हैं. अमेठी पहुंचने के बाद सबसे पहले उन्होंने मटियारी जाकर बीजेपी के दिवंगत नेता संत बख्स सिंह के परिवार से मुलाकात की. बीजेपी नेता संत बख्स सिंह की कुछ दिन पहले ही सड़क दुर्घटना में मौत हो गई थी. अमेठी में स्मृति एक जनसभा को सबोधित करेंगी और शाम तक दिल्ली के लिए वापस रवाना हो जाएंगी. गौरतलब है कि 2014 लोकसभा चुनाव में स्मृति ईरानी ने अमेठी सीट से चुनाव लड़ा था लेकिन वो कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से हार गईं थीं.
एजेंसी इनपुट भी