नई दिल्ली. भारत सरकार ने साफ-साफ शब्दों में पाकिस्तान से कह दिया है कि दोनों देशों के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों की वार्ता में सिर्फ और सिर्फ आतंकवाद के मसले पर ही बात होगी. कश्मीर के मसले पर कोई बात नहीं होगी.

केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा है कि कश्मीर मुद्दे पर बात करने की पाकिस्तान की मांग भारत को नामंजूर है. उन्होंने कहा कि रूस के उफा में बनी सहमति के मुताबिक राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकारों के बीच बातचीत सिर्फ आतंकवाद के मसले पर होगी.

दिल्ली में 24 अगस्त को पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार सरताज अजीज के साथ भारतीय सुरक्षा सलाहकार अजित डोभाल की बैठक होनी है.

सरताज अजीज की डोभाल से पहले कश्मीर के अलगाववादी नेताओं से मिलने की जिद को लेकर गतिरोध बना हुआ है और अंदेशा है कि इस मसले पर ही वार्ता न टूट जाए.