नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हर साल की तरह इस साल भी सैनिकों के साथ बॉर्डर पर दिवाली मनाएंगे. हालांकि अभी तक पीएमओ की ओर से इसकी आधाकारिक घोषणा नहीं हुई है. लेकिन ऐसा माना जा रहा है कि पीएम मोदी चीन बॉर्डर पर सैनिकों के साथ दिवाली मना सकते हैं. पीएमओ आज इसकी आधिकारिक घोषणा कर सकता है. लेकिन ऐसा नहीं है कि ये पहला मौका है जब प्रधानमंत्री देश के जवानों के साथ दिवाली मनाने बॉर्डर पर जा रहे हैं. पीएम बनने के बाद हर साल मोदी जवानों के साथ दिवाली के मौके पर मौजूद रहे हैं. ये लगातार चौथी बार ऐसा होगा कि पीएम बॉर्डर पर दिवाली मना रहे हैं. इससे पहले पीएम 2014 में सियाचिन, 2015 में पंजाब-पाकिस्तान बॉर्डर और 2016 में हिमाचल के कन्नौर में दिवाली मनाई थी.
 
इससे पहले बॉर्डर पर देश की सुरक्षा में तैनात सैनिकों ने दीवाली मनाई. समाचार एजेंसी जम्मू-कश्मीर के पुंछ सेक्टर में बॉर्डर पर तैनात भारतीय सेना के जवानों ने एलओसी के नजदीक दीप जलाए, इस दौरान जवानों ने डांस भी किया. जवानों ने जलते हुए दीपों को रखकर ‘हैप्पी दिवाली’ लिखा. इस मौके पर एक जवान ने कहा, ‘देश के लोगों को दिवाली पूरे उत्साह के साथ मनानी चाहिए. 
 
साल 2014: प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने पहली दिवाली जम्मू कश्मीर के सियाचिन में भारतीय जवानों के साथ मनाई. 
साल 2015: पीएम मोदी लगातार दूसरे साल दिवाली मनाने बॉर्डर पर पहुंचे. पीएम मोदी ने पाकिस्तान बॉर्डर पर पंजाब में अमृतसर के डोगराई वॉर मेमोरियल में दिवाली मनाई.
साल 2016: पीएम बनने के तीसरे साल नरेंद्र मोदी ने हिमाचल के किन्नौर में आईटीबीपी, सेना और डोगरा स्काउट सैनिकों के साथ दिवाली का जश्न का मनाया. 
 
राष्ट्रपति, उपराष्ट्रपति और प्रधानमंत्री मोदी सहित कई केंद्रीय मंत्रियों ने भी दीपावली के अवसर पर देशवासियों को बधाई दी हैं. पीएम मोदी ने ट्वीटर के जरिए लिखा- ‘दीपावली के पावन पर्व पर सभी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं।’