पंचकूला: 3 दिन की रिमांड खत्म होने पर हरियाणा पुलिस ने दो साध्वियों से यौन शोषण मामले में दोषी करार गुरमीत राम रहीम की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत इंसा को पंचकूला कोर्ट में पेश किया. जहां से उसे 23 अक्टूबर तक न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया. हनीप्रीत और उसकी सहेली सुखदीप को अंबाला जेल में रखा जाएगा और दोनों की पेशी अब वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग से होगी. इससे पहले पंचकूला हिंसा में SIT ने डेरा चेयरपर्सन विपासना और हनीप्रीत से सेक्टर-23 थाने में आमने-सामने बिठाकर पूछताछ की. माना जा रहा है कि विपासना से पूछताछ के बाद हनीप्रीत की डायरी-मोबाइल और लैपटॉप का सुराग मिल सकता है.
 
सूत्रों से खबर है कि, हनीप्रीत ने SIT को बताया कि उसकी लिखी डायरी विपासना के पास है जिसमें डेरे से जुड़े कई घटनाएं और राज़ दफ्न है. हनीप्रीत की डायरी में कई बड़े नेताओं और VVIP लोगों के नंबर हैं…जो विपरीत परिस्थितियों में राम रहीम के काम आते थे. हिंसा में जिस ब्लैकमनी का इस्तेमाल हुआ, वो कहां से आया और कहां कहां भेजा गया, डायरी में इसकी जानकारी भी है. पंचकूला में हिंसा फैलाने के लिए डेरा से जुड़े किस व्यक्ति को क्या रोल दिया गया था, वो भी इस डायरी में दर्ज है. इसके अलावा डायरी में राम रहीम के विदेश में बैठे भक्तों के नंबर भी हैं, जिनके यहां सजा की स्थिति में भागकर वो छिपने की फिराक में था. 
 
वहीं पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने जुर्माना चुकाने में आनाकानी कर रहे राम रहीम को झटका देते हए पंचकूला कोर्ट में 30 लाख जमा करने को कहा है. राम रहीम ने कहा था कि पीड़ितों को 15-15 लाख देने के लिए उसके पास पैसे नहीं हैं. हाईकोर्ट ने इस पर राम रहीम के वकील को फटकार भी लगाई. 

 
वहीं एसआईटी ने खुलासा किया था कि हनीप्रीत ने ही पंचकूला हिंसा का मास्टर प्लान तैयार किया था. SIT के मुताबिक हनीप्रीत ने ही देश विरोधी वीडियो बनाकर वायरल किया. जिसमें राम रहीम के समर्थन में नारेबाजी हो रही थी. SIT ने कहा कि वायरल वीडियो के सबूत हनीप्रीत के मोबाइल और लैपटॉप में हैं, जिन्हें बरामद किया जाना है. टीम ने कहा कि पंचकूला हिंसा में वांटेड आदित्य और पवन इंसां हिमाचल प्रदेश में हैं. उनके ठिकाने हनीप्रीत जानती है. 
 
ये भी पढ़ें: