पुंछ : पाकिस्तानी सेना ने एक बार फिर अपने नापाक इरादों को अंजाम देते हुए गुरुवार को पुंछ जिले के कृष्णा घाटी सेक्टर में सीजफायर का उल्लघंन किया. पाकिस्तानी सेना ने एलओसी के पास जमकर गोलीबारी की जिस कारण भारतीय सेना का एक जवान शहीद हो गया. पाकिस्तान की ओर से किए गए इस सीजफायर में भारतीय सेना के साथ काम करने वाले एक पोर्टर की भी मौत हो गई है. भारतीय सेना का एक जवान शहीद हुआ तो वहीं पांच जवान गंभीर रूप से घायल हो गए हैं. बता दें कि इन पांच जवानों में से तीन की हालत नाजुक बनी हुई है. पाक की ओर से की गई फायरिंग का भारतीय सेना ने मुंहतोड़ जवाब दिया है. 
 
शहीद जवान की पहचान टीके रेड्डी के रूप में हुई है जो आंध्र प्रदेश का निवासी था और पोर्टर मुहम्मद जाहिर मंजाकोट (राजौरी) का रहने वाला था. पाकिस्तान ने गोलीबारी की जिसमें कैदार गोरी शंकर, नितेश नरे, रूप नार बाबा साहिब, नायक आर मुन्तपोंदी, नरेंद्र कुमार व सेना का पोर्टर मुहम्मद इसाक घायल हो गए. इन सभी घायलों का इलाज भारतीय सेना अस्पताल में किया जा रहा है, जिन तीन जवानों की हालत नाजुक है उन्हें ऊधमपुर रेफर कर दिया गया है.
 
पिछले काफी समय से पाकिस्तान लगातार सीजफायर का उल्लंघन कर रहा है, पाकिस्तान ने सेना की चौकी पर गोलाबारी के लिए मोर्टार का इस्तेमाल किया. गौरतलब है कि इससे पहले 6 अक्टूबर को पाकिस्तानी सैनिकों ने राजौरी जिले के बाबा खोरी और अन्य इलाकों में गोलीबारी की थी. आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि 2017 में पाकिस्तान की ओर से किए गए सीजफायर उल्लंघन के मामले में तेजी से बढ़ोतरी हुई है. गृह मंत्रालय से प्राप्त हुए आंकड़ों के मुताबिक, सितंबर 2017 तक 600 से ज्यादा बार सीजफायर उल्लंघन किया गया. फिलहाल सीमा पार हुए नुकसान की अभी जानकारी नहीं मिल पाई है.