चंडीगढ़: साध्वियों से रेप के मामले में 20 साल की सजा के खिलाफ राम रहीम की याचिका को पंजाब-हरियाणा हाईकोर्ट ने एडमिट कर लिया है. पंजाब हरियाणा हाईकोर्ट ने राम रहीम की याचिका पर CBI को नोटिस जारी किया है. बता दें कि राम रहीम ने CBI कोर्ट की सजा रद्द करने की याचिका दी है. उधर पीड़ित साध्वियों की याचिका को भी कोर्ट ने मंजूर कर लिया है. साध्वियों ने राम रहीम की 20 साल की सजा को उम्रकैद में बदलने की अपील की थी. 
 
ये भी पढ़ें:
 
राम रहीम के वकील ने हाईकोर्ट में पहले ही अर्जी दी थी लेकिन तकनीकि वजह से मंजूर नहीं हुई थी. राम रहीम की अर्जी शनिवार को मंजूर कर ली गई है. डेरा सच्चा सौदा के तमाम राज खंगालने के लिए पुलिस लगातार हनीप्रीत से पूछताछ में जुटी हुई है. पंचकूला कोर्ट से पुलिस को हनीप्रीत से पूछताछ के लिए 6 दिनों की रिमांड मिली है. हालांकि हरियाणा पुलिस हनीप्रीत से डेरा सच्चा सौदा का कोई खास राज़ हासिल नहीं कर पाई है. ऐसे में अब राम रहीम की इस सबसे बड़ी राजदार के नार्को टेस्ट की तैयारी चल रही है. हरियाणा पुलिस हनीप्रीत की सहेली सुखदीप से सारे राज उगलवाने में लगी है. सूत्रों से खबर है कि सुखदीप को पुलिस तरनतारन लेकर गई है. पूछताछ में सुखदीप ने हनीप्रीत का मोबाइल तरनतारन में होने की बात कही थी. खबर है कि वही मोबाइल रिकवर करने के लिए पुलिस उसे ले गई है.
 
ये भी पढ़ें: 
 
बता दें कि हरियाणा पुलिस की SIT हनीप्रीत को लेकर पंचकूला के थाने से निकली थी लेकिन थोड़ी देर में लौट आई. मीडिया को चकमा देने के लिए पुलिस ने हनीप्रीत को ले जाने के लिए डमी का इस्तेमाल किया था. गुरमीत राम रहीम इस वक्त साध्वी यौन शोषण मामले में 20 साल की सजा काट रहा है. वह इस वक्त सुनारिया जेल में बंद है. वहीं डेरा प्रमुख की मुंहबोली बेटी हनीप्रीत पर पंचकूला में 25 अगस्त को दंगे भड़काने की साजिश रचने एवं देशद्रोह का केस दर्ज है. 38 दिनों से फरार चल रही हनीप्रीत को भी पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है.

 

राम रहीम सिंह तो जेल के अंदर खेती-बारी में जोत दिए गए हैं लेकिन अब सरकार उनको लाखों-करोड़ों का चंदा देने वाले भक्तों के बैंक खातों को खंगाल रही है. प्रवर्तन निदेशालय गैर-कानूनी विदेशी लेन-देन की जांच करता है जिसमें हवाला या बोगस कंपनियों के जरिए रुपए इधर-उधर करने का खेल होता है. इस ईडी ने अब राम रहीम के हजारों करोड़ की प्रॉपर्टी की कुंडली खंगालने का काम शुरू कर दिया है. ईडी ने शुरुआती जांच का मामला दर्ज कर लिया है जो जैसे-जैसे आगे बढ़ेगा, वैसे-वैसे राम रहीम की गलत तरीके से मदद करने वालों के लिए परेशानियां खड़ी करेगा.