केदारनाथ : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद रविवार सुबह आठ बजे केदारनाथ धाम पहुंचे. यहां राष्ट्रपति ने पूजा अर्चना की उसके बाद वो बदरीनाथ के लिए रवाना हो गए. 11 बजे रामनाथ कोविंद बदरीनाथ पहुंचे. यहां भी राष्ट्रपति ने पूजा अर्चना की. महामहिम के दौरे के मद्देनजर कड़े सुरक्षा बंदोबस्त किए हैं.
 
इससे पहले राष्ट्रपति बनने के बाद रामनाथ कोविंद पहली बार अपने परिजनों के साथ शनिवार देर शाम दून पहुंचे. राजभवन ने पलक-पावड़े बिछाकर 14वें राष्ट्रपति का स्वागत किया. राज्यपाल डॉ कृष्णकांत पॉल व मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र रावत ने उनका राजभवन में स्वागत किया. राष्ट्रपति, अपनी सविता कोविंद, पुत्र, पुत्री एवं परिवार के अन्य सदस्यों के साथ उत्तराखंड दौरे पर आए हुए हैं. 
 
राष्ट्रपति शनिवार शाम दिव्य प्रेम सेवा मिशन में आयोजित अभिनंदन समारोह को संबोधित कर रहे थे. राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नर सेवा को नारायण सेवा बताते हुए अपने संबोधन की शुरुआत की. उन्होंने कहा कि मानव सेवा को ही अपना धर्म समझने वाले दिव्य प्रेम सेवा मिशन जैसे संस्थान में आकर उन्हें स्वामी विवेकानंद का दर्शन समझ में आता है.