नई दिल्‍ली. दिल्ली के जंतर-मंतर पर करीब एक साल से धरना दे रहे हरियाणा के भगाणा गांव के लोगों पर देर रात दिल्ली पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया. इस घटना में प्रदर्शन कर रहे 11 लोग घायल हुए हैं. घायलों को राम मनोहर लोहिया अस्पताल में भर्ती कराया गया है. आपको बता दें कि इन दलित परिवारों ने अपनी मांग न सुने जाने के कारण कल इस्लाम क़ुबूल कर लिया था.

हरियाणा के हिसार से आए कुछ दलित परिवार जंतर-मंतर पर धरना दे रहे थे. देर रात पुलिस ने इन्हें धरना स्थल खाली करने को कहा, लेकिन ये लोग वहां से हटने को तैयार नहीं हुए. इसके बाद पुलिस ने इन पर लाठीचार्ज कर दिया, जिसमें कई लोग घायल हुए हैं. अपने गांव के कुछ दबंगों से परेशान इन लोगों ने कुछ दिन पहले इस्लाम धर्म कबूल कर लिया था. लाठीचार्ज के दौरान जंतर-मंतर पर योगेंद्र यादव के समर्थक भी मौजूद थे. इन लोगों पर भी पुलिस ने लाठी चार्ज किया.

क्या है मामला
हिसार के भगाणा गांव के दबंगों ने पिछले साल गांव के दलित परिवारों की 5 लड़कियों के साथ रेप किया. विरोध करने के बाद दबंगों ने दलित परिवारों को गांव से ही बाहर कर दिया. इसके बाद सभी परिवार जान का खतरा बताकर सुरक्षा और न्याय की मांग के लिए जंतर-मंतर पर प्रदर्शन कर रहे थे.