गोरखपुर : बीआरडी अस्पताल में पिछले महीने ऑक्सीजन की कमी से हुई बच्चों की मौत मामले की जांच चल रही है, इस मामले में एक के बाद एक गिरफ्तारी भी की जा रही है. हाल ही में यूपी पुलिस ने एक और आरोपी को हिरासत में लिया है.
 
पुलिस ने देवरिया से आरोपी मनीष भंडारी को गिरफ्तार कर लिया है, अब आपके जहन में ये सवाल आ रहा होगा कि बीआरडी मेडिकल कॉलेज में आखिर ये मनीष कौन है. आप लोगों की जानकारी के लिए बता दें कि मनीष भंडारी पुष्पा सेल्स कंपनी के मालिक हैं.
 
गोरखपुर के अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई ठप्प होने से 48 घंटों के भीतर 30 बच्चों की मौत, मचा कोहराम
 
 
यूपी पुलिस आरोपी मनीष से पूछताछ कर रही है. गौरतलब है कि यूपी एसटीएफ ने कानपुर के साकेतनगर से डिकल कॉलेज के पूर्व प्रिंसिपल राजीव मिश्रा के साथ-साथ उनकी पत्नी पूर्णिमा शुक्ला को भी गिरफ्तार किया था. पुष्पा सेल्स बीआरडी अस्पताल में ऑक्सीजन सप्लाई करती थी, लेकिन ऐसी बात सामने आई थी कि पेमेंट रुकने की वजह से कंपनी ने सप्लाई बंद कर दी थी.
 
ये लोग हुए अरेस्ट
 
पूर्व प्रिंसिपल राजीव मिश्र, प्रिंसिपल की पत्नी पूर्णिमा शुक्ला, डॉ. कफील खान, क्लर्क सुधीर पाण्डेय, गजानंद जायसवाल, र्क्लकल अकाउंटेंट उदय प्रताप शर्मा, असिस्टेंट क्लर्क संजय त्रिपाठी, असिस्टेंट क्लर्क सुधीर पांडेय, पुष्पा सेल्स प्राइवेट लिमिटेड के एमडी मनीष भंडारी
 
इस घटना से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने किया था दौरा
 
तीन दिन पूर्व ही योगी योगी आदित्यनाथ ने अस्पताल का दौरा किया था और उन्होंने बाल चिकित्सा वार्ड का जायजा भी लिया था लेकिन इसके बाद भी ऐसी लापरवाही सामने आई ये बेहद ही चौंका देने वाली बात है.