अरनिया : पाकिस्तान अपनी हरकतो से बाज नहीं आता और भारतीय सेना भी पाक को मुहंतोड़ जवाब देती रहती है. जम्मू-कश्मीर के अरनिया सेक्टर में पाकिस्तान ने एक बार फिर सीज़फायर का उल्लंघन किया है. सैन्य सूत्रों के अनुसार बीती आधी रात से पाकिस्तान की ओर से अंधाधुंध फायरिंग जारी है. हालांकि किसी प्रकार के जान-माल के नुकसान की कोई खबर नहीं है. इससे पहले 15 सितंबर को पाकिस्तान की ओर से फायरिंग में बीएसएफ का एक जवान शहीद हो गया, वहीं एक जवान घायल हो गया है. शहीद जवान का नाम बृजेंद्र बहादुर सिंह है.
 
बीती रात जम्मू के साम्बा सेक्टर के अरनिया में पाकिस्तान ने युद्ध विराम का उल्लघंन किया था. पाकिस्तान ने दो दिनों के अंदर दूसरी बार सीजफायर का उल्लंघन किया है. वहीं, बीएसएफ के जवान पाकिस्तानी रेंजर्स को मुंहतोड़ जवाब दे रहे हैं. इस साल सीजफायर उल्लंघन, आतंकी हमले में अबतक 48 जवान शहीद हो चुके हैं. 
 
 
इससे पहले गुरुवार को पाकिस्तानी रेंजर्स ने कश्मीर के अखूनर और पुंछ सेक्टर में नियंत्रण रेखा पर सीजफायर का उल्लंघन किया था. सीमा पार से की गई इस गोलाबारी में बीएसएफ के दो जवान समेत पांच लोग घायल हो गए थे. भारतीय सेना ने भी पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दिया. इस जवाबी कार्रवाई में दो पाकिस्तानी रेंजर्स ढेर हो गए.
 
  
पाकिस्तान की ओर से पिछले साल के मुकाबले इस साल ज्यादा सीजफायर का उल्लंघन किया है. पाकिस्तान की ओर से एक अगस्त तक सीजफायर के 286 मामले सामने आ चुके हैं, जबकि साल 2016 में 228 बार युद्धविराम तोड़ा है. दरअसल पाकिस्तान अपने आतंकियों को भारत में घुसपैठ कराता है, इसके लिए पाक सीमा पर आतंकियों को प्रोटेक्शन देने के लिए सीजफायर करता है.