नई दिल्ली : रेयॉन इंटरनेशनल स्कूल के उत्तरी जोन के हेड फ्रांसिस थॉमस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर पूरे मामले की सुनवाई हरियाणा से बाहर करने की मांग की है. प्रद्युम्न मामले में फ्रांसिस थॉमस को पुलिस ने जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत गिरफ़्तार किया है. उनपर बच्चे की सुरक्षा को लेकर लापरवाही के तहत जुवेनाइल जस्टिस एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया है. 
 
फ्रांसिस थॉमस ने अपनी याचिका में कहा है कि गुड़गांव और सोहना बार एसोसिएशन ने कहा है कि प्रद्युम्न मामले में आरोपियों की तरफ से कोई भी वकील केस नही लड़ेगा. अगर कोई वक़ील केस नही लड़ेगा तो ये फ्री एंड फेयर ट्रायल के अधिकार का उल्लंघन होगा.
 
फ्रांसिस थॉमस ने अपनी याचिका में कहा है कि कस्टडी में उनके वकीलो को भी मिलने भी उनसे मिलने नहीं दिया जा रहा है. उन्हें आज ही सोहना कोर्ट में पेश किया जाना है.
 
 
याचिका में ये भी कहा गया है कि हरियाणा के शिक्षा मंत्री ने कहा है कि स्कूल मैनेजमेंट के खिलाफ केस किया जाएगा. वहीं सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि मामले की जांच पुलिस कर रही है, उस पर फिलहाल सुनवाई नहीं होगी. लेकिन कोर्ट ट्रांसफर याचिका पर 18 सितंबर को सुनवाई करेगा.