नई दिल्ली: कैबिनेट फेरबदल के बाद मंगलवार को पहली बार केंद्रीय मंत्रिमंडल की मीटिंग हुई. बैठक में स्वच्छ अभियान को लेकर सभी मंत्रियों को एक डॉक्यूमेंट्री भी दिखाई गई. इसी डॉक्यूमेंट्री के हिसाब से सभी मंत्रियों को सफाई अभियान पुरे देश में चलाने के निर्देश दिए गए. साथ में सभी मंत्रियों को अलग-अलग जगहों पर जाने के निर्देश भी दिए गए हैं. मीटिंग में बताया गया कि 15 सितंबर से 2 अक्टूबर तक देशभर में स्वच्छता अभियान चलाया जाएगा. 
 
मोदी सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों को बड़ा तोहफा दिया है. सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों के लिए 1 फीसदी अतिरिक्त महंगाई भत्ते को मंजूरी दे दी है. कर्मचारियों और पेंशनर्स को यह अतिरिक्त महंगाई भत्ता इसी साल 1 जुलाई से मिलेगा.
 
 
मंगलवार को केंद्रीय कैबिनेट द्वारा पारित प्रस्ताव के मुताबिक कर्मचारियों को बेसिक वेतन पर अब चार के बजाय पांच फीसदी महंगाई भत्ता मिलेगा. बता दें कि  मौजूदा समय में केंद्रीय कर्मचारियों को 4 फीसदी भत्ता मिलता है. बताया जा रहा है कि इस मंजूरी को करीब 50 लाख कर्मचारियों और 61 लाख पेंशनभोगियों को इसका फायद मिलने का अनुमान है.
 
 
बता दें कि इससे पहले मार्च में मोदी सरकार ने अपने महंगाई भत्ते में दो फीसदी की बढ़ोतरी की थी. यह एक जनवरी, 2017 से प्रभावी हुआ था. सरकारें अपने कर्मचारियों को महंगाई से राहत दिलाने के लिए साल में दो बार महंगाई भत्‍ता बढ़ाती हैं. वर्तमान में कर मुक्त ग्रेच्युटी की अधिकतम सीमा 10 लाख रुपये है. सातवें वेतन आयोग की सिफारिशें लागू होने के बाद केंद्रीय कर्मचारियों के लिए इसे बढ़ाकर 20 लाख रुपये कर दिया गया है.