जयपुर : राजस्थान के जयपुर में एक पुलिस वाले के डंडा मारने के बाद हिंसक झड़प हो गई. जयपुर के रामगंज में एक पुलिस वाले के डंडा मारने से घायल दंपति के मामले को लेकर भीड़ ने जमकर हंगामा और आगजनी की.
 
भीड़ ने रामगंज थाने में घुसने की भी कोशिश की. पुलिस ने आंसू गैस के गोले दागे और हवाई फायर कर भीड़ को रोका. पुलिस ने भीड़ को तितर-बितर करने के लिए हलका लाठीचार्ज भी किया. इस दौरान मीडिया वालों से भी पुलिस ने बदसलूकी की.
 
भीड़ ने एक पावर हाउस के अलावा पुलिस के चेतक वाहन, एंबुलेंस समेत 5 गाड़ियों में आग लगा दी और 21 गाड़ियों में तोड़फोड़ की. हिंसा को देखते हुए 4 थाना इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया है और पूरे शहर में इंटरनेट सेवा बंद कर दी गई है. इस पूरे हंगामे में 8 पुलिस वाले जख्मी हो गए और फायरिंग में एक शख्स की गोली लगने से मौत हो गई.
 
क्या है मामला ?
शुक्रवार के दिन रूटिन चेकिंग के दौरान एक पुलिस वाले ने बाइक से जा रहे एक आदमी को रोकने की कोशिश की. पुलिस के मुताबिक वह आदमी रूटीन चेकिंग से भागने की कोशिश कर रहा था जिसके बाद उसे रोकने के लिए लाठी मारी गई.
 
पुलिस के लाठी मारने के बाद वहां मौजूद लोग भड़क गए और सैंकड़ों लोग पुलिस स्टेशन के सामने इकट्ठा होकर के पुलिस वालों के ऊपर पत्थर फेंकने लगे. देखते ही देखते स्थिति काफी हिंसक हो गई. पुलिस ने बताया कि जयपुर के मानक चौक, सुभाष चौक, गल्ता गेट और रामगंज पुलिस स्टेशन के इलाकों में कर्फ्यू लगा दिया गया है.