पटना. रविवार को मोदी कैबिनेट विस्तार के शपथ ग्रहण समारोह के तुरंत बाद राजद प्रमुख लालू प्रसाद खुश दिखाई दिये. जदयू कोटे से किसी को केंद्र में जगह नहीं दिये जाने और शपथ ग्रहण समारोह में नीतीश कुमार को नहीं बुलाए जाने के बाद लालू यादव ने नीतीश कुमार पर निशाना साधा और चुटकी भी ली है. 
 
लालू प्रसाद ने कहा है कि नीतीश मोदी का गुनगान करते हैं, मगर उन्हें शपथ ग्रहण में बुलाया भी नहीं. नीतीश कुमार को मोदी ने ठेंगा दिखाया है. नीतीश ने खुद कहा है कि उनसे से इस विस्तार के बारे में उनसे कोई चर्चा नहीं की गई. उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार कांग्रेस विधायक दल को तोड़ने में लगे हैं. 
 
लालू ने नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्हें (नीतीश कुमार) को शपथ ग्रहण समाहोर में बुलाया भी नहीं गया. जो अपने लोगों को छोड़ देता है, उसे दूसरे भी अपने साथ नहीं रखते. नीतीश का यही भाग्य है.
बता दें कि पीएम मोदी ने चीन में ब्रिक्स सम्मेलन के लिए रवाना होने के लिए केंद्रीय कैबिनेट का विस्तार किया. रविवार को 10.30 बजे से राष्ट्रपति भवन में शपथ ग्रहण समारोह शुरू हुआ. जैसा पहले से कायास लगाए जा रहे थे, सब कुछ वैसा ही हुआ. मोदी की टीम में चार मंत्रियों का प्रमोशन हुआ है, वहीं नौ नए चेहरे को राज्यमंत्री के रूप में शामिल किया गया है. 
 
 
इस विस्तार को बीजेपी के 2019 के चुनावी अभियान के नजर से भी देखा जा रहा है. मोदी मं‍त्री मंडल में केरल, कर्नाटक, दिल्‍ली, राजस्‍थान, बिहार और उत्‍तर प्रदेश के नये चेहरों को जगह दी गई है. मुख्तार अब्बास नकवी, निर्मला सीतारमण, पीयूष गोयल और धर्मेद्र प्रधान को प्रमोशन दिया गया है. उन्हें राज्यमंत्री से कैबिनेट का दर्जा दिया गया है.
 
इसके अलावा नये चेहरों में से अनंत हेगड़े, वीरेंद्र कुमार और हरदेव सिंह पुरी को राज्यमंत्री बनाया गया है. मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर और बागपत से सांसद सतपाल सिंह तथा पूर्व गृह सचिव और बिहार के आरा से सांसद आरके सिंह को भी राज्यमंत्री बनाया गया है. गजेंद्र सिंह, अल्फोंस कन्नाथनम, शिवप्रताप शुक्ला और अश्विनी चौबे को भी राज्यमंत्री बनाया गया है.