लखनऊ: बरेली के जमात रजा-ए-मुस्तफा ने 15 अगस्त पर मदरसों में राष्ट्रगीत गाने के यूपी सरकार के फरमान को नकार दिया है. जमात ने अपील जारी कर जन-गण-मन नहीं गाने को कहा है. वहीं मेरठ के सैकड़ों मदरसा संचालकों ने कहा कि 15 अगस्त पर ‘जन गण मण’ और ‘सारे जहां से अच्छा’ गाने में एतराज नहीं लेकिन वंदे मातरम् नहीं गाया जाएगा.
 
जमात के प्रवक्ता नासिर कुरैशी ने बताया कि बरेली के काजी आसजद आर खान ने बर्लवी मदरसा को स्वतंत्रता दिवस मनाने के लिए कहा है. लेकिन योगी आदित्यनाथ द्वारा मदरसों में राष्ट्रगान गाने और वीडियोग्राफी कराए जाने के फरमान को मानने से साफ इनकार कर दिया है. इसलिए राष्ट्रीय ध्वज तो फहराया जाएगा लेकिन राष्ट्रगान नहीं गाया जाएगा.
 
ये भी पढ़ें:
 
कुरैशी ने बताया कि योगी सरकार के फैसले पर शहजाद-ए-ताजुशरिया व जमात रजा मुस्तफा के अध्यक्ष मौलाना असजद रखा खां कादरी (अजसद मियां) ने प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि मदरसों के प्रबंधक, संचालक स्वतंत्रता दिवस को शान से तिरंगा फहराएं, ‘सारे जहां से अच्छा हिंदोस्तां हमारा’ तराना गाएं. हमेशा की तरह मिठाई बांट कर जश्न मनाएं. 
 
 
कुरैशी ने बताया जब स्वतंत्रता दिवस के कार्यक्रम पर राष्ट्रध्वज फहराया जाएगा तब ‘सारे जहां से अच्छा’ गाना भी गाया जाएगा. हम लोग हर साल 15 अगस्त और 26 जनवरी बड़ी धूमधाम से मनाते हैं. क्योंकि जितना ये देश तुम्हारा है उतना ही हमारा है. हमेशा की तरह मिठाई बांट कर जश्न मनाएंगे. जंग-ए-आजादी में जिन लोगों ने कुर्बानियां दी उनको भी याद किया जाएगा.
 
ये भी पढ़ें:
 
बता दें कि यूपी सरकार की ओर से अल्पसंख्यक कल्याण मंडल और सभी जिला अल्पसंख्यक कल्याण अधिकारियों को आदेश दिया गया है कि सभी मदरसों में 15 अगस्त के कार्यक्रम को हर्षोउल्लास के साथ मनाया जाए. इसके लिए स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रम की पूरी रूपरेखा भी तैयार करके दी गई है. इसके साथ ही इस दिन के कार्यक्रम की वीडियोग्राफी करने का भी आदेश दिया गया है.