श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर में सेना को एक बड़ी सफलता हाथ लगी है. सेना ने बड़ी कार्रवाई करते हुए हिजबुल मुजाहिद्दीन के चीफ कमांडर यासीन इत्तू को ढेर कर दिया है. पुलिस ने इस बात की जानकारी दी है. साथ ही इस मुठभेड़ में दो भारतीय जवान भी शहीद हो गये हैं. 
 
हिजबुल मुजाहिद्दीन के चीफ कमांडर यासीन इत्तू की मौत को बुरहान वानी और अबू दुजाने के मारे जाने के बाद सुरक्षाबलों की ये बड़ी सफलता है. बता दें कि रविवार को ही जम्मू कश्मीर के शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच हुए मुठभेड़ में सेना ने तीन आतंकियों को मार गिराया. इत्तू के अलावा दो अन्य आतंकियों की पहचान इरफान-उल-हक शेख और उमर माजिद शेख के तौर पर हुई है. 
रविवार की दूसरी घटना में बांदीपोरा में आतंकियों ने पुलिस पार्टी पर हमला कर दिया. इस हमले में दो पुलिसकर्मी घायल हो गए. हमले के बाद पुलिस ने पूरे इलाके को चारों ओर से घेर लिया है और आतंकियों की तलाश जारी है. यहां सेना की कई टीम की ओर से संयुक्त अभियान के तहत घेराबंदी कर आतंकियों की तलाश जारी है. 
 
 
इससे पहले पिछले साल ये खबर आई थी कि यासीन इत्तू एक्सीडेंट में मारा गया था, मगर बाद में ये महज अफवाह साबित हुई थीं. पिछले साल 2016 में हिजबुल कमांडर बुरहान वानी की मौत के बाद यासीन ने कई रैलियों को भी संबोधित किया था, जिसके बाद से उसकी तस्वीरें सोशल मीडिया में तेजी से फैल गई थीं. 
 
बताया जा रहा है कि इस साल अब तक जम्मू-कश्मीर में सेना ने 120 से अधिक आतंकियों को मौत के घाट उतारा है.